दुर्दांत दुबे से हमदर्दी क्यों? साध्वी ने दिखाया विरोधियों को आइना

0
151

लखनऊ। आठ पुलिसकर्मियों को शहीद करने वाला दुर्दान्त अपराधी विकास दुबे के एनकाउंटर पर राजनीति शुरू हो गई है। कोई इसको जायज ठहरा रहा है तो किसी ने इसका विरोध शुरू कर दिया है। हत्यारोपी विकास दुबे को यूपी एसटीएफ ने शुक्रवार सुबह कानपुर में मार गिराया। इन सब के बीच सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बिना नाम लिए दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को निर्दोष करार दिया है। इतना ही नहीं उन्होंने ट्वीट कर कहा कि दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गयी है।

संतों की हत्या पर कहां थे ये लोग
अखिलेश के साथ साथ कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने इस मामले की CBI जांच की मांग की है। इन सब के बीच विश्व हिंदू परिषद की फायरब्रांड नेता साध्वी प्राची ने कहा है कि महाराष्ट्र के निर्दोष सन्तों की हत्या पर मिसेज वाड्रा कहां थीं। साध्वी ने कहा कि अखिलेश बताएं कि क्या मारे गये 8 पुलिसकर्मी दोषी थे..?? साध्वी प्राची ने कहा कि गुंडो को पालने वाले आका को आज दुख हुआ है। लेकिन उसने 8 महिलाओं को विधवा कर दिया इस पर इन्हें कोई दुख नहीं।

ब्राम्हणों का द्रोही था दुबे
दुबे के एनकाउंटर के बाद मनोज शुक्ला ने कहा कि 19 साल बाद उन्हें न्याय मिला। दरअसल उनके भाई मंत्री संतोष शुक्ल को दुबे ने थाने में घुसकर मार डाला था। मनोज़ शुक्ल ने CM योगी की तारीफ़ की है। साध्वी ने कहा कि विकास दुबे के एनकाउंटर पर ब्राम्हणवाद चलाने वालों को यह जानना चाहिए की विकास दुबे ने आज तक 17 ब्राह्मणों की हत्या की थी।

योगी का साफ संकेत
साध्वी ने कहा कि कुछ भी हो पर योगी आदित्यनाथ ने साफ संकेत दिया है कि अपराधी चाहे जो भी हो उसको उसकी जगह पहुंचाया ही जाएगा। यूपी में कितना भी बड़ा अपराधी क्यों न हो पुलिस से बच नहीं सकता। साध्वी ने कहा कि अगर एनकाउंटर सही है तो बधाई और अगर फर्जी है तो बहुत बहुत बधाई क्योंकि ऐसे अपराधियों को उनकी सही जगह पहुंचाना जरूरी है।

कांग्रेस पर बोला हमला

साध्वी ने कहा कि यहीं कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी बाटला हाउस कांड पर रोई थीं। ये इनकी नियत बन गया है। जब भी कोई अपराधी मारा जाता है तो राहुल सोनिया और प्रियंका जैसे लोग आंसू बहाते हैं। अखिलेश और मायावती ने ऐसे अपराधियों को पाला पोशा था। इसीलिए इनको दर्द होगा।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here