राज्‍यसभा चुनाव: इस सियासी जोड़ तोड़ से मायावती के उम्‍मीदवार को दे सकते हैं मात अमित शाह

0
1017

राजा भैया और मायावती के बीच रिश्ते अच्छे न होने की वजह से वह बीजेपी का हाथ थाम सकते हैं। अगर अमित शाह ऐसा सियासी जोड़-तोड़ कर ले तो बीजेपी के नौवें उम्मीदवार का संसद पहुंचना संभव हो हो जाएगा।

लखनऊ। आगामी शुक्रवार (23 मार्च) को देशभर की 31 राज्यसभा सीटों पर चुनाव होंगे। इनमें से 10 सीटें यूपी से भरी जाएंगी। आठ सीटों पर बीजेपी उम्मीदवार की जीत तय है। नौवें पर सपा उम्मीदवार की जीत तय है लेकिन 10वें सीट को लेकर दोनों तरफ से सियासी जोड़-तोड़ का खेल जारी है। बीजेपी ने नौवें प्रत्याशी को खड़ा कर चुनाव को रोचक बना दिया है। उधर, सपा अपने उम्मीदवार जया बच्चन को चुनने के बाद सरप्लस वोट बसपा प्रत्याशी को देकर गोरखपुर और फूलपुर उप चुनावों में लिया मायावती का कर्ज उतारना चाहती है लेकिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह सपा-बसपा की इस दोस्ती को यहीं खत्म करने पर आमादा हैं।
बीजेपी अध्यक्ष की नजर सपा के विधायकों को ही तोड़ने की है। पिछले 24 घंटे में अमित शाह की रणनीति से बीजेपी का किला मजबूत होता दिख रहा है। राष्ट्रपति चुनाव के वक्त सपा के जिन सात सांसदों ने एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को वोट दिया था वे सभी बुधवार (21 मार्च) को पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा बुलाई गई बैठक से नदारद थे। ऐसे में माना जा रहा है कि सपा के ऐसे सात विधायक कहीं क्रॉस वोटिंग कर बीजेपी को फायदा न पहुंचा दे। एनडीए खेमे में नाराज चल रहे सहयोगी ओमप्रकाश राजभर को भी अमित शाह ने मना लिया है। फिलहाल वो एनडीए में बने रहेंगे। यूपी सीएम योगी से उनकी नहीं पट रही थी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here