कैराना जीत के बाद विपक्षी नेताओं के बयान, जाने किसने क्या कहा

0
3290

Lucknow. बीजेपी की ख्वाहिश पर विपक्ष ने पानी फेर दिया। कैराना लोकसभा सीट पर बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ा है। वहीं नूरपुर विधानसभा सीट भी उसके हाथ से निकल गई। जानिए विपक्षी नेताओं ने इस पर क्या प्रतिक्रिया दी।

अखिलेश के हौसले हुए बुलन्द
उपचुनाव के नतीजों के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव बेहद गदगद हैं। उन्होंने कहा कि हमने भाजपा को उसी के तरीके से मात दी है। कहा कि जो खेल भाजपा हमारे साथ खेलती थी, वही खेल हमने सीखा हैं उनसे। भाजपा मुद्दे भटकाने की राजनीति करती है। उन्होंने कहा कि जब हम विकास की बात करते थे, तो वह सामाजिक बात करते थे। समाजवादी लोगों ने अब उन्हीं से सीख कर दलितों, किसानों के मुद्दे उठाए हैं।

अखिलेश ने कहा कि भाजपा की कोशिश थी कि मुद्दों को बदल दिया जाए, लेकिन लोगों ने जनता को धोखे देने का जवाब दिया है। यहां के नतीजे देश की राजनीति के लिए एक बड़ा संदेश है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की ईवीएम पर जो राय पहले थी वो राय आज भी है। उन्होंने इस जीत को लेकर बसपा, रालोद, आम आदमी पार्टी, कांग्रेस सहित सभी सहयोगी पार्टियों को धन्यवाद दिया है।

आज़म बोले कुदरत का बदला
वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म खान ने बयान दिया है कि विपक्ष की एकता और भाजपा का जुल्म बड़ा है। भाजपा ने लोगों से जीने का अधिकार छीन लिया, लोग दहशत में रह रहे हैं। देश की चौथाई आबादी डर में सोती और जागती है। ये कुदरत का बदला है, जो इंसाफ का रास्ता छोड़ेगा उसकी ऐसी ही जिल्लत होगी।

जयंत बोले जिन्ना की हुई हार जीत गया गन्ना
वहीं राष्ट्रीय लोकदल के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने भी चुनाव नतीजों पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि जिन्ना हारा और गन्ना जीत गया। उन्होंने आरएलडी उम्मीदवार तबस्सुम हसन का समर्थन करने वाली सभी पार्टियों का धन्यवाद किया। जयंत ने कहा कि आगे भी गठबंधन होगा और साथ मिल कर सांप्रदायिक ताकतों का मुकाबला किया जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि 2019 के लोकसभा चुनावों में भी ऐसे ही नतीजे मिलेंगे। जयंत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मंगल यान से लेकर 9 किलोमीटर तक की सड़का का श्रेय जब वही लेते हैं तो हार की जिम्मेदारी भी उन्ही को लेनी चाहिए।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here