“मायावती को केवल माया चाहिए , दलित नहीं” इस बीजेपी नेता ने दिया बयान

0
470

लखनऊ (संकल्प सिंह):  बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डा.महेंद्र नाथ पाण्डेय आज सुबह इलाहाबाद के भाजपा मीडिया सेंटर पहुंच गए । यहां उन्होंने इलाहाबाद के कई छात्र संघ पदाधिकारियों के साथ बैठक में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि जिन दलितों ने मायावती को कई बार मुख्यमंत्री बनाया, वह उन्हें ही भूल कर माया के चक्कर में पड़ी रही। माया के फेर ने ही मायावती के दिन फेर दिए।

जिन्हें माया से प्रेम होता है वह विकास नहीं कर सकते
साथ ही उन्होंने कहा कि जिन्हें माया से प्रेम होता है वह विकास नहीं कर सकते। देश का विकास मोदी और प्रदेश का विकास योगी जैसे लोग करते हैं, उनके पास कोई संपत्ति नहीं होती। लूट-खसोट वाले लोग जिनके पास आलीशान बंगले होते हैं वह देश के उन्नयन के विषय में कदापि नहीं सोचा करते, मोदी और योगी देश के विकास और प्रगति का चिंतन करते हैं।

योगी स्वयं जीती जागती भारतीय संस्कृति के संवाहक हैं
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने बीजेपी को गरीबों की सरकार बताते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी समाज के बीच रहकर कार्य करने वालों को ही चुनाव में प्रत्याशी बनाती है। उन्होंने मोदी और योगी के विकास रथ की भी चर्चा की। उन्होंने कहा हम लोग भारतीय संस्कृति के पोषक हैं और योगी आदित्यनाथ जी स्वयं जीती जागती भारतीय संस्कृति के संवाहक हैं। सपा के पाप का जवाब इलाहाबाद और गोरखपुर के उपचुनाव में युवा देगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश को संभावनाओं का प्रदेश बताते हुए कहा कि रोजगारों के लिए प्रदेश के युवा को अन्य किसी प्रदेश में नहीं जाना पड़ेगा, उन्होंने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को राष्ट्रवादी संगठन बताया।

छात्र ही देश का भविष्य है 
साथ ही उन्होंने छात्रों से बातचीत करते हुए कहा कि छात्र ही देश का भविष्य है और देश के राजनीति की दिशा तय करते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व में छात्र राजनीति में सक्रिय रहने वाले लोग आज किसी न किसी पद पर गरिमामय उपस्थिति दर्ज कराते हुए उन पदों को सुशोभित कर रहे हैं। छात्र जीवन के संघर्ष से आगे का मार्ग और वैचारिक दर्शन से राजनीति की दिशा तय होती है। आप विचारों से अपने को सशक्त बनाए, जिससे राजनीति करने वालों को दिशा प्रदान कर सकें।

राष्ट्र के प्रति भी अपना चिंतन करिए
उन्होंने आगे कहा कि आप इलाहाबाद में शिक्षा ग्रहण करने आए हैं, अपने को गौरवान्वित महसूस कीजिए, शिक्षा के साथ-साथ राष्ट्र के प्रति भी अपना चिंतन करिए। पूर्वोत्तर में सरकार बनने पर बेचैन कांग्रेस और विपक्ष को अपने गिरेबान में झांकने का सुझाव दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि हमें जनादेश प्राप्त हुआ है। कांग्रेस तो संवैधानिक अधिकार का दुरुपयोग कर धारा 356 लगाकर ज्यादातर प्रदेशों में अपनी चौधराहट करती थी। त्रिपुरा का वामपंथी किला दो तिहाई बहुमत से ढहा दिया गया।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here