अभी अभी :मायावती पर असंसदीय टिप्पणी से विधानसभा में हंगामा, भाजपा के इस बड़े नेता को महंगी पड़ गई, मायावती से मांगी माफी

0
1341

लखनऊ (संकल्प सिंह ): उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान विधानसभा में उस समय माहौल गर्मागर्मी का बन गया जब भाजपा के दल बहादुर कोरी ने बसपा अध्यक्ष मायावती को लेकर असंसदीय टिप्पणी कर डाली। बसपा विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा और सुखदेव राजभर ने कड़ा विरोध जताया और सदस्य से माफी मांगने की मांग की।

इस बीच श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने न केवल भाजपा सदस्य का बचाव किया वरन बसपा सुप्रीमो पर भी आरोपों की बौछार कर दी। मामला बढ़ता देख विधानसभा ने सदन की कार्यवाही चार बार में 55 मिनट के लिए स्थगित की। बाद में कोरी द्वारा अपने शब्द वापस लेने पर ही इस मामले का पटाक्षेप हुआ।

अभिभाषण पर चर्चा के दौरान दल बहादुर कोरी ने सपा, बसपा को निशाने पर लिया। पहले उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का नाम लेकर टिप्पणी की तो विधानसभा अध्यक्ष ने उन्हें टोक दिया। इस पर कोरी ने अपने शब्द वापस ले लिए। इसके बाद उन्होंने बसपा सुप्रीमो पर निशाना साधा। उन पर असंसदीय टिप्पणी का आरोप लगाते हुए बसपा के सुखदेव राजभर ने आपत्ति जताई। बसपा विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा ने कहा कि एक पार्टी की अध्यक्ष पर आरोप लगाना संसदीय गरिमा के विपरीत है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here