लोकसभा चुनाव से पहले अगर हुआ यह तो मायावती और अखिलेश को लगेगा बड़ा झटका

0
1678

लखनऊ (संकल्प सिंह ): माना जा रहा है कि भाजपा के नौ प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे और दो के नाम वापस करा दिए जाएंगे। भाजपा ने नामांकन के अंतिम दिन 11 उम्मीदवार उतारकर चुनाव को रोमांचक मोड़ पर पहुंचा दिया। 11 उम्मीदवारों का नामांकन कराने से यह साफ हो गया है कि पार्टी के नीति निर्धारक चुनाव के जरिए सपा-बसपा की दोस्ती को झटका देना चाहते हैं।

भाजपा सपा-बसपा में सेंधमारी करके यह साबित करने की कोशिश करेगी कि उनके विधायकों का अपने नेतृत्व में पूरा भरोसा नहीं है। भाजपा की रणनीति को अमली जामा पहनाने के लिए सोमवार को दिन भर सियासी घटनाक्रम चलता रहा। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व द्वारा घोषित आठ उम्मीदवारों ने दो चरणों में नामांकन किया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. महेन्द्रनाथ पांडेय के साथ 11.30 बजे वित्त मंत्री अरुण जेटली विधानभवन के सेंट्रल हॉल पहुंचे।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा सहित सरकार के मंत्रियों, भाजपा पदाधिकारियों व विधायकों की मौजूदगी में जेटली ने निर्वाचन अधिकारी पूनम को नामांकन पत्र सौंपा। दूसरे चरण में दोपहर 1.05 बजे भाजपा प्रत्याशी डॉ. अनिल जैन, जीवीएल नरसिम्हा राव, अशोक वाजपेयी, विजय पाल सिंह तोमर, कांता कर्दम, सकलदीप राजभर और हरनाथ सिंह यादव ने नामांकन दाखिल किए। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष से नौवें प्रत्याशी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, प्रतीक्षा कीजिए। इसी से अंदाज लग गया कि भाजपा नौवां उम्मीदवार उतारेगी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here