LATEST ARTICLES

नकुल दुबे पर बसपा को भरोसा, सीतापुर सीट से बनाया प्रभारी

लखनऊ। पूर्व नगर विकास मंत्री नकुल दुबे पर एक बार फिर बसपा सुप्रीमो मायावती ने भरोसा किया है। सपा—बसपा गठबंधन के बाद सीतापुर लोकसभा सीट से बसपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे नकुल दुबे...

भाजपा नेता की भतीजी ने इस मुस्लिम से की शादी, तो हंगामा क्यों है

दोस्तों एक फिल्म का गाना याद आ रहा है कि लेकिन मैं उसको लिख नहीं सकता। मगर एक कविता है शायद कुमार विश्वास की ही है। ''वो हमको मोहब्बत की पोथी पढ़ा रहे हैं...

पुलवामा में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान कश्मीरी पत्थरबाजों से मिन्नते करते पुलिसकर्मी

सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले का बदला सेना के जवानों ने ले लिया है। पुलवामा हमले के मास्टर माइंड आतंकी कामरान उर्फ गाजी राशिद समेत एक और...

वीडियो: तुम करो तो रास लीला , हम करें तो करेक्टर ढीला।

तुम करो तो रास लीला , हम करें तो करेक्टर ढीला। यही हमारे लोकतंत्र की खूबसूरती है जो आपको भरपूर बोलने का अधिकार देता है ताकि आप किसी की भी भावनाओं को ठेस पहुंचा...

अस्पताल में पप्पू ने पास कर ली धैर्य की ‘अग्नि परीक्षा’

Lucknow. रात्रि के 9 बज रहे थे, मोटरसाइकिल से तकरीबन 150 किमी का सफर तय करने के बाद वापस घर लौटा। मारे ठंड के अंतड़ियां तक कांप रहीं थी। भोजन को भूल जस तस...

आर्यकुल में आर्यवीर किलोल 2019 सेमीफाइनल का शुभारम्भ

(LUCKNOW)आर्यकुल कालेज में आर्यवीर किलोल 2019 सत्र का शुभारम्भ 13 फरवरी से हुआ है। इसी क्रम में आज क्रिकेट,मिक्स क्रिकेट व वालीबाल का सेमीफाइलन हो रहा है, जिसमें सेमीफाइनल के शुभारम्भ के अवसर पर...

कांग्रेस की सियासी परिपक्वता के आगे अपरिपक्व है भाजपा

सियासत और हुकूमत करने में कांग्रेस का तजुर्बा भाजपा से कहीं ज्यादा है। सियासी चालों में भी कांग्रेस ज्यादा सफल रही है, तभी आजाद भारत के सत्तर साल के इतिहास में कांग्रेस ने तकरीबन...

बैड पत्रकारिता: पार्टी को मिला सहारा, बदले में चैनल हैड बांदा से लड़ेंगे चुनाव

चुनाव में राजनीतिक दल मीडिया पर धन लुटाते हैं। पार्टियों का प्रचार करने के लिये बरसाती मेढ़क की तरह न्यूज चैनल शुरू होते हैं। इन चैनलों को शुरू करने और दिखाये जानी की करोड़ों...

मिशन पत्रकारिता की चट्टान टूटी, बनी मौरंग की दलाली

नावेद शिकोह उत्तर प्रदेश की पिछली सरकार के खनन मामले में सीबीआई की रडार पर एक संपादक भी हैं। क्योंकि मामला हिन्दुस्तान के बड़े सम्पादक और बड़े अखबार का है इसलिए हो सकता है हाईकमान...

डीडी न्यूज ने युवा पत्रकारों को छला, देखें बेईमानी का काला सच

आजादी के 70 साल बाद ही सही पर देश ने यह माना कि आरक्षण से वंचित सवर्णों में भी गरीब हो सकते हैं। बहरहाल उम्मीद है कि जल्द ही देश यह भी मान लेगा...