जार्ज : लोकतंत्र के लिये ख़तरा बन सकते है , फेसबुक और गूगल

0
139

नई दिल्ल : आज का युग इंटरनेट का युग है और इंटरनेट के इस युग में दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया यानि फेसबुक का बोलबाला है। सोशल मीडिया ने लोगों को खुलकर अपने विचार रखने का मौका दिया है वहीं अमेरिका के अरबपति निवेशक जॉर्ज सोरोस ने सोशल मीडिया कंपनियों को लेकर चेतावनी दी है। साथ ही उन्होंने इंटरनेट पर गूगल और फेसबुक जैसी दिग्गज कंपनियों के एकाधिकार को इनोवेशन की राह में बाधा बताया। सोरोस ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनियों का लोकतंत्र के कामकाज पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है।
वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम(WEF) के सालाना कार्यक्रम में जॉर्ज सोरोस ने कहा कि अमेरिका के आईटी दिग्गजों के दिन बस गिनती के बचे हैं। सोरोस ने कहा, ‘सोशल मीडिया कंपनियां अब प्रभावित करने लगी हैं कि लोग कैसा सोचें और व्यवहार करें। लोग इस बात को बिना महसूस किए सोशल मीडिया के हिसाब से सोचने लगे हैं। इसके लोकतंत्र के कामकाज पर दूरगामी और विपरीत प्रभाव पड़े हैं, खासकर चुनावों की शुचिता पर।’ सोरोस ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनियां जानबूझकर लोगों को अपनी सेवाओं का लत लगा रही हैं। उन्होंने कहा, ‘यह बहुत नुकसानदायक है, खासकर किशोरों के लिए।’

सोरोस की ये टिप्पणियां तब आई हैं जब फेसबुक और ट्विटर समेत कई सोशल नेटवर्किंग साइटें 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव पर रूस के कथित प्रभाव के मामलों को लेकर जांच का सामना कर रही हैं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here