गेंम चेंजर हो सकता है, बसपा का सपा को समर्थन देने का निर्णयन

0
986

Lucknow: बसपा का सपा को समर्थन देने का ऐलान गेम चेंजर हो सकता है। बसपा व सपा दोनों के पास ही कैडर वोटर है। यदि दोनों कैडर वोटर एक हो जाते हैं तो बीजेपी की राह कठिन हो जायेगी। बसपा का सपा को समर्थन देने की रणनीति पर बीजेपी नेताओं ने स्पष्ट कर दिया है कि पूर्व में सपा व कांग्रेस एक साथ मिल कर चुनाव लड़े थे इसके बाद भी बीजेपी ने यूपी में प्रचंड बहुमत पाया है।
-सीएम योगी के खास स्कूल के लिए नहीं मिल रहे शिक्षक, शिक्षा विभाग हुआ परेशान
लोक सभा चुनाव 2019 में भी होगा गठबंधन:
गोरखपुर व फूलपुर संसदीय सीट पर होने वाले उपचुनाव में सपा व बसपा का गठबंधन सफल होता है तो संसदीय चुनाव 2019 में सपा व बसपा के गठबंधन का रास्ता साफ हो जायेगा। पूर्व सीएम अखिलेश यादव व बसपा सुप्रीमो मायावती ने पहले ही दोनों दलों में गठबंधन करने का संकेत दिया है। सपा व बसपा में गठबंधन से सबसे अधिक फायदा मुस्लिम वोटरों को होगा। निर्दल प्रत्याशी अतीक अहमद के बाद मुस्लिम वोटरों को सारे वोट सपा व बसपा गठबंधन को ही मिलेगा। इससे मुस्लिम मतों का ध्रुवीकरण कम होगा और बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ सकता है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here