मुन्ना बजरंगी मर्डर केस: जेलर समेत चार निलंबित, सीएम ने दिए जांच के आदेश

0
94

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रमुख सचिव गृह ने कुख्यात अपराधी मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दिए जाने की घटना की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही प्रमुख सचिव गृह ने जेलर व डिप्टी जेलर समेत चार जेल कर्मियों को निलंबित कर दिया है।

प्रमुख सचिव गृह अरविन्द कुमार ने बताया है कि हत्याकांड में लापरवाही के लिए प्रथम दृष्ट्या दोषी पाए गए बागपत के जेलर उदय प्रताप सिंह, डिप्टी जेलर शिवाजी यादव, हेड वार्डन अरजिंदर सिंह व वार्डन माधव कुमार को निलंबित किया गया है। अलग से घटना की मजिस्ट्रेटी जांच भी कराई जा रही है। बागपत के एडीएम को यह जांच सौंपी गई है। उन्होंने बताया कि न्यायिक अभिरक्षा में होने वाली मौत के मामलों में कार्रवाई के संबंध में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) के स्पष्ट दिशा-निर्देश हैं।

घटना के बारे में एनएचआरसी को सूचित भी कर दिया गया है। घटना की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। शव का पंचनामा कराकर डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। बागपत के डीएम और डीआईजी जेल घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। दूसरी ओर लखनऊ में एडीजी जेल चंद्र प्रकाश ने भी इस घटना को जेल की सुरक्षा व्यवस्था में गंभीर चूक का परिणाम बताया है। बैरक में आपसी विवाद के बाद गोली मारे जाने की बात सामने आ रही है। जेल में बंदी के पास हथियार होना गंभीर मामला है। इस मामले में दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here