गौरीगंज में राहुल गांधी के स्वागत के दौरान भाजपाइयों पर लाठीचार्ज

0
54

पुलिस ने हंगामा काट रहे प्रदर्शनकारियों पर बर्बर तरीके से लाठीचार्ज कर दिया। इस दौरान भगदड़ में दर्जनों प्रदर्शनकारी चोटिल हो गए।

अमेठी। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष अपने दो दिवसीय अमेठी दौरे पर हैं। आज उनके दौरे का दूसरा दिन है। राहुल के स्वागत में कांग्रेसियों ने कोई कसर नहीं छोड़ी इस बात की सार्थक अमेठी की सड़कों पर राहुल के काफिले की कुछ तस्वीरें बनी। राहुल का मंगलवार को करीब 10 कुंतल गुलाब के फूलों से स्वागत किया गया। समर्थक उनके स्वागत में कहीं नाच-गाने और ठुमके लगाते मिल रहे, तो कहीं घोड़ों की सवारी करते। यही नहीं जगह-जगह पुष्प वर्षा भी हो रही थी।

इस दौरान काफिले में उस समय भगदड़ मच गई जब पुलिस ने उपद्रव कर रहे भाजपाइयों पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस ने पहले उन्हें वहां से हटाने की कोशिश की तो प्रदर्शनकारी उग्र हो गए । पुलिस ने हंगामा काट रहे प्रदर्शनकारियों पर बर्बर तरीके से लाठीचार्ज कर दिया। इस दौरान भगदड़ में दर्जनों प्रदर्शनकारी चोटिल हो गए। भाजपाई बैनर पोस्टर लेकर राहुल गांधी का विरोध करने पहुंचे थे। लाठी चार्ज के दौरान सुरक्षाकर्मियों ने राहुल को अपने सुरक्षा घेरे में ले लिया।

लापता सांसद के पोस्टर लेकर कर रहे थे विरोध

राहुल गांधी आज अपने दौरे के दूसरे दिन मुसाफिर खाना से गौरीगंज के लिए निकले थे। रास्ते में कांग्रेसी उनके स्वागत के लिए खड़े थे। इस दौरान भाजपा के सैकड़ों समर्थक वहां हाथों में पोस्टर और तख्तियां लेकर पहुंच गए। इन तख्तियों पर लिखा था “अमेठी के लापता सांसद का स्वागत”, किसानों की जमीन अपने निजी ट्रस्ट के लिए हड़पने वाले सांसद का स्वागत”, “फर्जी योजनाओं का शिलान्यास करने वाले सांसद का स्वागत”, “अमेठी के विकास की अनदेखी करने वाले सांसद का स्वागत”, “स्वास्थ्य शिक्षा एवं विकास की उपेक्षा करने वाले सांसद का स्वागत”, अमेठी क्षेत्र की जनता की समस्याएं ना सुनने वाले सांसद का स्वागत”, इन स्लोगन लिखी तख्तियों के अलावा भाजपाई राहुल गांधी मुर्दाबाद के भी नारे लगा रहे थे।

बच्चे लगाने लगे नरेंद्र मोदी के नारे

ख़बरों के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के दौरे में आज अंतिम दिन सड़क यात्रा निकाल रहे थे। इस दौरान उनके स्वागत में स्कूल के बच्चों को खड़ा किया गया था। राहुल गांधी ने बच्चों को करीब 4 घंटे इंतजार करवाया। इस दौरान जब राहुल काफिला लेकर निकले तो बच्चों ने नरेंद्र मोदी जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। जब बच्चों को टोका गया तो वह राहुल गांधी जिंदाबाद के नारे लगाने लगे।

पहले दिन ही भाजपाइयों से हुआ था बवाल

बता दें कि राहुल गांधी जब सोमवार को सलोन में नुक्कड़ सभा को संबोधित करना चाह रहे थे। उनके सलोन पहुंचने से पहले किसान और कुछ भाजपाई हाथ में स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर विरोध जताने पहुंचे। तख्तियों पर अमेठी के सांसद लापता का स्वागत जैसे नारे लिखे थे। यह देखकर कांग्रेसियों की भाजपाइयों से तकरार होने लगी थी। आरोप है कि एमएलसी अमेठी दीपक सिंह व कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने भाजपाइयों और किसानों की पिटाई कर दी थी। एसपी शशि शेखर सिंह ने समझाने की कोशिश की तो एमएलसी ने उनसे भी नोकझोक हाथापाई की। सलोन विधायक दल बहादुर कोरी मौके पर पहुंच गए थे। भाजपा विधायक व उनके समर्थक कांग्रेस एमएलसी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए थे। सूचना मिलने पर डीएम संजय कुमार खत्री व एसपी शिव हरी मीणा मौके पर पहुंचे थे और मामला शांत करवाया था। इस दौरान राहुल को काले झंडे भी दिखाए गए थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here