प्रदेश अध्यक्ष की दौड़ में हैं ये ब्राम्हण नेता, राहुल के करीबी भी शामिल

0
1284

Lucknow. राज बब्बर के इस्तीफे के बाद कांग्रेस ने ब्राह्मण नेता के हाथों में सूबे की कमान सौंपने का मन बना लिया है। इसमें चार नामों पर तेजी से बात चल रही है। जिसमें कांग्रेस के प्रमोद तिवारी, जितिन प्रसाद, राजेश मिश्रा या ललितेशपति त्रिपाठी में से किसी एक नाम पर मुहर लगाई जा सकती है। यूपी में करीब 12 फीसदी ब्राह्मण मतदाता हैं।एक दौर में ये कांग्रेस का परंपरागत वोट था। कांग्रेस दोबारा इन्हें जोड़ने की कवायद कर रही है।

नाराजगी को भुनाने में जुटी कांग्रेस, यूपी में ब्राम्हण चेहरा ला सकती है पार्टी

कौन हैं  प्रमोद तिवारी

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी का बसपा और सपा दोनों ही पार्टियों के नेताओं से अच्छे संबंध माने जाते हैं। वह राज्यसभा सपा के सहयोग से गए थे। इसी महीने उनका कार्यकाल खत्म हो रहा है। अटकले हैं कि उन्हें प्रदेश की कमान दी जा सकती है। इन दिनों सपा और बसपा की दोस्ती परवान चढ़ रही है. ऐसे में तिवारी सूबे के बदलते सियासी समीकरण में सपा-बसपा के साथ कांग्रेस को भी मजबूती से खड़ा कर सकते हैं। तिवारी प्रतापगढ़ से आते हैं। उत्तर प्रदेश के ऐसे नेता हैं जो अभी तक एक भी चुनाव नहीं हारे हैं। वो लगातार दस बार विधायक रहे और फिलहाल राज्यसभा सदस्य हैं, जिनका कार्यकाल पूरा हो रहा।

अभी अभी : मायावती को पता भी नहीं चला और बसपा में हो गया इतना बड़ा कांड

कौन हैं जितिन प्रसाद
ब्राह्मण नेता जितिन प्रसाद राहुल के करीबी हैं और युवा नेता हैं। वो यूपी के रूहेलखंड के शहजहांपुर से आते हैं। कांग्रेस के दिग्गज नेता जितेंद्र प्रसाद के बेटे हैं। मनमोहन सरकार में मंत्री भी रहे हैं।

कौन हैं ललितेशपति त्रिपाठी
पूर्वांचल के मिर्जापुर से आते हैं और कांग्रेस के दिग्गज नेता व पूर्व मुख्यमंत्री कमलापति त्रिपाठी के परपोते हैं। राजेश त्रिपाठी के पुत्र हैं. ललितेशपति राहुल के करीबियों में गिने जाते हैं और युवा के साथ-साथ ब्राह्मण है. पूर्वांचल ब्राह्मणों का मजबूत गढ़ रहा है. सीएम योगी आदित्यनाथ भी पूर्वांचल से आते हैं और राजपूत हैं. ऐसे में कांग्रेस पूर्वांचल के ब्राह्मण चेहरे के तौर पर ललितेशपति त्रिपाठी के नाम पर मुहर लगा सकती है.

अगर काम कर गया यह गड़ित तो BJP को हो जाएगी दिक्कत

कौन हैं राजेश मिश्रा

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के संभावित चेहरों में राजेश मिश्रा का भी नाम शामिल है. राजेश मिश्रा बनारस से सांसद रहे हैं. वो छात्र राजनीति से आए हैं. बीएचयू के छात्रसंघ अध्यक्ष रह चुके हैं. दो बार एमएलसी भी रहे हैं. मौजूदा समय में प्रदेश कांग्रेस कमेटी में उपाध्यक्ष हैं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here