CJI रंजन गोगोई के कार्यकाल की 10 बड़ी बातें

0
80

नई दिल्ली। अयोध्या केस, कर्नाटक विधायक केस, सबरीमाला जैसे मामलों में फैसला सुनाने वाले चीफ जस्टिस आॅफ इंडिया आज रिटायर हो जाएंगे। CJI रंजन गोगोई ने अंतिम दिन 3 मिनट में 10 नोटिस जारी किए हैं। अब जस्टिस बोबडे देश के अगले चीफ जस्टिस होंगे।

अंतिम दिन चीफ जस्टिस कुछ ही देर कार्यालय में बैठे। 17 नवंबर को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के कार्यकाल का अंतिम दिन है, लेकिन इस वक्त वीकेंड पड़ रहा है।

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई का कार्यकाल

– कार्यकाल के अंतिम दिन CJI रंजन गोगोई सिर्फ तीन मिनट के लिए अपनी कोर्ट में बैठे.

– परंपरा के मुताबिक वह अपने उत्तराधिकारी जस्टिस बोबडे के साथ अपने कोर्ट रूम में बैठे.

– जब चीफ जस्टिस गोगोई साढ़े 10 बजे कोर्टरूम पहुंचे, तो कमरा पूरी तरह से भरा हुआ था.

– 18 नवंबर को जस्टिस बोबडे नए मुख्य न्यायधीश के तौर पर शपथ लेंगे. इससे पहले शुक्रवार को मौजूदा चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस बोबडे की बेंच ने कार्यसूची में शामिल दस मुकदमों में नोटिस जारी किया.

– इस प्रक्रिया के बाद सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश खन्ना ने सभी की तरफ से जस्टिस गोगोई का धन्यवाद किया और शुभकामनाएं दीं.

– इस दौरान जस्टिस गोगोई ने सभी का शुक्रिया किया, कक्ष में मौजूद सभी लोगों से हाथ जोड़कर अलविदा लिया.

– शुक्रवार दोपहर ढाई बजे चीफ जस्टिस गोगोई राजघाट जाएंगे और महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगे. जब जस्टिस गोगोई ने बतौर CJI पदभार संभाला था, तब भी वे राजघाट गए थे.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here