शुरुआत अच्छी लेकिन लड़खड़ा गया हाथी

0
1497

सन् 2007 के यूपी विधानसभा चुनाव में बुन्देलखण्ड की कुल 19 विधानसभा सीटों में 13 पर बसपा ने विजयश्री हासिल की थी जबकि सपा व कांग्रेस को 3-3 सीटें प्राप्त हुई थीं और भाजपा का खाता तक नहीं खुल पाया था। 2012 के विधानसभा चुनाव में सपा ने पूर्ण बहुमत से यूपी में सरकार बनाई और बुंदेलखण्ड में बसपा को 6 सीटें मिली और यहीं से उसके पतन की शुरुआत हुई। बुन्देलखण्ड में जिसका परिणाम देखने को मिला। पिछले वर्ष 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में जिसमें सभी 19 सीटों पर भाजपा ने विजयश्री हासिल करते हुए सभी को चारों खाने चित्त कर दिया। इससे पहले 2014 के लोकसभा चुनाव में तो बसपा का खाता पूरे यूपी में नहीं खुला था। हालांकि जिस हिसाब से बुंदेलखण्ड में बसपा की अच्छी खासी पैठ मानी जाती थी। उसके वोटबैंक पर उसको बरकरार रखने में पार्टी पीछे रह गई।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here