भारतीय दौरे से पहले इजराइली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ विरोध की तैयारियां शुरू

0
175

नई दिल्ली। इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू अपनी छह दिन की यात्रा के लिए रविवार को नई दिल्ली पहुंच रहे हैं। येरूशलम को इजराइल की राजधानी घोषित करने के खिलाफ भारत ने वोटिंग की थी, जिसके बाद पहली बार बेंजामिन नेतन्याहू नई दिल्ली पहुंच रहे हैं। इस बीच भारत में मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने इजराइली पीएम के दौरे का खुलकर विरोध करने की योजना बना ली है। यहां तक कि सिर्फ जमीयत उलेमा-ए-हिंद ही नहीं बल्कि कई मुस्लिम संगठन और स्टूडेंट यूनियन की तरफ से भारत आ रहे बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ जोरदार विरोध देखने को मिल सकता है।

जमीयत उलेमा-ए-हिंद करेंगे विरोध

पूर्व सांसद और जमीयत उलेमा-ए-हिंद के सेक्रेटरी महमूद ए मदनी ने शुक्रवार को ऐलान किया है कि वे इजराइली पीएम की दौरे का विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि फिलिस्तीन भारत का मित्र है और भारत को इस पर अपनी विदेश नीति में बदलाव नहीं करना चाहिए। मदनी ने कहा कि जमीयत उलेमा-ए-हिंद संगठन पीएम मोदी से आग्रह करता है कि वे इजराइली पीएम की यात्रा को तुरंत रोकें।

इजराइली दूतावास के बाहर कर सकते है प्रदर्शन

इसके अलावा स्टूडेंट एक्टिविस्ट और जेएनयू स्टूडेंट उमर खालिद ने भी बेंजामिन नेतन्याही की भारत यात्रा का विरोध करने के लिए कहा है। उमर खालिद ने शुक्रवार को अपने फेसबुक अकाउंट पर NOT TO NETANYAHU नाम से एक पोस्टर पब्लिश कर 15 जनवरी को इजराइली दूतावास के बाहर प्रदर्शन करने के लिए बुलाया है। हालांकि, बेंजामिन नेतन्याहू की भारत यात्रा को लेकर सरकार ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम भी कर दिए हैं।

अहमदाबाद में रोड शो और आगरा में करेंगे ताज का दीदार

बेंजामिन नेतन्याहू की यह भारत यात्रा बहुत अहम मानी जा रही है। पीएम नेतन्याहू 14 जनवरी को भारत पहुंचेंगे, जहां वे पीएम मोदी से भी मुलाकात करेंगे। सूत्रों की मानें तो पीएम मोदी और नेतन्याहू दोनों अहमदाबाद में एक रोड शो में भी हिस्सा लेंगे। अपनी पत्नी के साथ भारत आ रहे बेंजामिन नेतन्याहू ताज का दीदार करने के लिए आगरा भी जाएंगे। बता दें कि बेंजामिन नेतन्याहू अपने साथ 11 वर्षीय मोशे को भी लेकर आ रहे हैं, जिसने 2008 मुंबई हमलों में अपने माता-पिता को खो दिया था।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here