पिता ने लगाया स्कूल प्रशाशन पर आरोप, सवालों के घेरे में पुलिस की भूमिका

0
287

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के ब्राइट लैंड स्कूल कांड में कक्षा एक के छात्र ऋतिक को चाकू मारकर घायल करने का आरोप जिस नाबालिग लड़की पर लगा है उस छात्रा को शुक्रवार को जुवेनाइल जस्टिस कोर्ट के समक्ष पेश किया गया था। कोर्ट में पूछताछ के बाद छात्रा को अंतरिम जमानत मिल गई है। अब छात्रा अपने परिवार के साथ रहेगी। छात्रा के वकील गुलाम मुस्तफा खान ने बताया कि इस मामले में स्कूल प्रबंधन को भी कोर्ट ने नोटिस भेजा है कि वह अपना जबाब दाखिल करें।

उन्होंने बताया कि कागजों के आधार पर छात्रा की उम्र केवल 10 साल 11 महीने 28 दिन है। कोर्ट में पेश होने के दौरान स्कूल के शिक्षक और उसके माता पिता कोर्ट में उपस्थित रहे। छात्रा ने अपने ऊपर लगे आरोपों को सिरे से नकार दिया। पुलिस की पूछताछ में भी छात्रा ने सभी आरोपों से इंकार किया था। छात्रा ने अपने बयान में कहा है कि पुलिस के हिरासत में लिए जाने से पहले स्कूल प्रशासन ने उसे अकेले बुलाया था। स्कूल की प्रिंसिपल ने उसके बाल नोचे और स्कूल में ही उसके बाल काटे थे। इतना ही नहीं उसे आधे घंटे तक बिना कपड़ों के नग्न रखा गया था। पुलिस ने उसे सरकारी जीप में ना ले जाकर उसे प्राइवेट गाड़ी में ले जाया गया। छात्रा ने जुयेनाइल कोर्ट के समक्ष कहा है कि उसने कोई जुर्म नहीं किया।

वकील का कहना है कि पुलिस ने आईपीसी की धारा 324, 325 दर्ज की है। इस केस में कोर्ट ने छात्रा को अंतरिम जमानत दे दी है। छात्रा के पिता ने भी बेटी को निर्दोष बताया है। उन्होंने कहा कि बेटी पढ़ने में बहुत अच्छी है और उसने कुछ नहीं किया। उनका कहना है कि इस मामले में लड़की के बयानों से लगता है कि उसे कॉलेज प्रशासन ने पुलिस की मिलीभगत से फंसाया गया है। वकील का कहना है कि इस मामले में अगर पुलिस और स्कूल प्रशासन की मिलीभगत निकल कर सामने आती है तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।

छात्रा के पिता ने मढ़ा स्कूल प्रशासन पर दोष

इस सनसनीखेज केस में आरोपी छात्रा के पिता ने स्कूल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। छात्रा के पिता के आरोपों के बाद स्कूल प्रशासन कटघरे में खड़ा हो गया है। पिता के आरोपों को जो भी सुन रहा है उसके कान खड़े हो जा रहे हैं। हालांकि मामले की सच्चाई के लिए पुलिस मामले की बारीकी से तफ्तीश की जा रही है। बता दें कि छात्र पर चाकू से वार करने के आरोपों के बाद गुरुवार को सैकड़ों छात्र-छात्राएं स्कूल के गेट पर पहुंची और नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। हालांकि पूरे दिन सुबह से लेकर शाम तक अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।

स्कूल बुलाकर छात्रा के काटे गए बाल, न्यूड करके ली गई तलाशी

छात्रा के पिता ने आरोप लगाया है कि घटना के बाद पहले स्कूल प्रशासन मामले को दबाये रखा। इस मामले में उन्हें भी जानकारी नहीं थी। मामला मीडिया में हाइलाइट होने के बाद उन्हें घटना के बारे में जानकारी हुई। छात्रा के पिता का आरोप है कि इस घटना के बाद बुधवार को छात्रा को स्कूल बुलाया गया था। बेटी ने अपनी मां को बताया है कि स्कूल में ही उसके बाल काटे गए। इसके बाद टीचर ने उसे एक दम न्यूड (बिना कपड़े) करके तलाशी ली गई। आरोप है कि उनकी बेटी को स्कूल प्रशासन ने धमकाया और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया। पिता ने आरोप लगाया है कि पुलिस बेवजह उनकी बेटी को फंसा रही है जबकि घटना किसी और द्वारा की गई होगी। हालांकि उनके बयान में कितनी सच्चाई है ये पुलिस की जांच का विषय है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here