नई शिक्षा नीति को जावड़ेकर ने बताया जरूरी, 34 वर्षों से नहीं हुआ था बदलाव

0
96
prakash javdekar

नई​ दिल्ली। नई शिक्षा नीति को जरूरी बताते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि यह बहुत आवश्यक था। उन्होंने कहा कि 34 वर्षो से शिक्षा नीति में कोई बदलाव नहीं हुआ था। मुझे उम्मीद है कि देशवासी इसका स्वागत करेंगे।

मंत्रीमंडल ने नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2020 को अनुमति दी। उच्च शिक्षा में प्रमुख सुधारों में 2035 तक 50 फीसद सकल नामांकन अनुपात का उद्देश्य रखा गया है। इसमें एकाधिक प्रवेश/ निकास का प्रावधान सम्मिलित है। हायर एजुकेशन सेक्रेटरी अमित खरे ने कहा कि हायर एजुकेशन में कई सुधार किए गए हैं। सुधारों में ग्रेडेड अकैडमिक, प्रशासनिक और वित्‍तीय स्‍वायत्त्‍तता आदि सम्मिलित हैंं। नई शिक्षा नीति और सुधारों के पश्चात् हम 2035 तक 50 फीसद ग्रॉस एनरोलमेंट रेश्यो प्राप्त करेंगे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here