इस कुश्ती की माहिर खिलाड़ी ने मौत को हराकर लिया दूसरा जन्म

0
165

कुमारी नेहा कश्यप गुलाबी टीशर्ट में अपने कोच के साथ। नेहा कश्यप के साथ पिछले साल एक लड़की ने कुश्ती हारने के बाद में दो लड़कों के साथ हमला कर दिया था जिसमें नेहा कश्यप का सर भी फट गया था 19 टांके सर की चोट में लगे थे मौत को हराकर दूसरा जन्म लिया था इस बेटी ने।

अब 4 दिन पहले . . अक्टूबर 2018 को नेहा कश्यप ने कुश्ती के फाइनल कंपटीशन में 6 सेकंड में दूसरे खिलाड़ी को चित कर हरा दिया और दिखा दिया केजरी कश्यप समाज की बेटी में दम ही नहीं ताकत है।

नेहा कश्यप ऐसी खिलाड़ी 1 साल पहले लगभग जिंदगी और मौत से जूझ के वापस आई थी सेल्यूट करते हैं ऐसी बेटी को मैं एक बार फिर कहता हूं हमारे समाज की बेटियों ही नहीं बेटों को भी आगे नहीं बढ़ने दिया जाता चाहे वह राजनीतिक तौर पर पीछे धकेले जाते हो चाहे आरक्षण से पीछे हटाये जाते हो यह थप्पड़ डंडे के दम पर पीछे धकेले जाते हो पीछे हटा दिए जाते हैं।

हमने हमेशा दूसरों के बच्चों को ज्यादा तवज्जो दी है उनको ही दान चंदा सहायता की है कभी हमने अपनी बेटियों की अपने बेटों की कभी मदद नहीं की अगर हमने अपने बेटी और बेटों को भी तू रुपया पैसा राजनीति में वोट आदि दिया होता तो आज कश्यप समाज दिखा देता कि कश्यप समाज में क्या ताकत है लेकिन हमने इन लोगों को दान दिया चंदा दिया रूपया दिया पैसा दिया ताकत दी वोट की राजनीति में चमकाया और आज ही हम लोगों पर इतने भारी है कि हमें अपनी जान बचाने भारी तक हो रखी है कहीं पर भी हम जाते हैं हमें पीछे धकेल दिया जाता है मैं एक बार फिर निवेदन करता हूं आपसे अपनापन लेकर आइए और अपनी बेटी और बेटों को सहायता करिए वह सारे आपके इसलिए कहता हूं अपना तो अपना बाकी सब पाली का ढकना सामूहिक लड़ाई समाज के लिए अकेले लड़ने से वह व्यक्ति भी हार जाएगा जो हमारी लड़ाई लड़ रहा है कश्यप समाज।

1995 में मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ था मेरा एनसीसी के माध्यम से फायरिंग में लखनऊ स्टेट चैंपियनशिप के लिए सिलेक्शन हुआ था लेकिन मुझे भी धक्का-मुक्की करके जाने से रोका गया था लेकिन मैंने इसकी शिकायत की जिसकी वजह से दोषी लड़के पकड़े गए और उनको सजा मिली उसके बाद मैं हूं स्टेट चैंपियनशिप खेल के आया और नेशनल में चौथे नंबर पर रहा था।

रही सही कसर भारतीय जनता पार्टी ने पूरी कर दी 27% ओबीसी आरक्षण जो गरीब का सबको मिला था उस आरक्षण को भी भाजपा ने 18 साल 6 महीने पहले 10 मार्च 2000 को 5 दबंग जातियों को शामिल करके उन्हें दे दिया।

हमारे कश्यप समाज के लोग का bjp ने हक मारा राजनीतिक रूप से भी सामाजिक रूप से भी आर्थिक रूप से भी कश्यप समाज का हक भाजपा ने मारा बाकी पार्टीयों ने भी कश्यप समाज को कभी मन से लाभ नहीं दिया।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here